Belchhi Village | Indira Gandhi | Belchi in Bihar | Loksabha Election 2019

  • 🎬 Video
  • ℹ️ Description
preview_player
UCUdp93thZem6-cZGqTX5KOw

पटना ज़िले के बेलछी गांव में 1977 में 11 दलित मज़दूरों की हत्या की गई थी. इसे बिहार में जातीय जनसंहार की शुरुआती घटना माना जाता है. इंदिरा गांधी उस वक़्त विपक्ष में थी और जनसंहार के बाद पीड़ित परिवारों से मिलने आई थीं. माना जाता है कि इससे इंदिरा गांधी को अपनी राजनीतिक ज़मीन को फिर से हासिल करने में काफी मदद मिली. अगले चुनाव में कांग्रेस की जीत हुई थी. इस चुनाव में क्या सोचते हैं यहां के लोग.

*** 🔔Click the BELL ICON to get alerts for every videos🔔 ***
-
Helo (APP) : Asiaville Hindi
Category
News & Politics
License
Creative Commons Attribution license (reuse allowed)

💬 Comments
Author

Poverty alleviation, free and quality education is what the villages of Bihar need. Even Nitish has not done enough.

Author — Sunita Dwivedi

Author

Tum reporter ke liye ye important nahi ki narsanhaar hua tumhare liye ye important hai ki Indira aai thi aur ye tumko election ke time me hi nazar aata hai😭😭😭

Author — DEEPESH KUMAR

Author

Well there is no truth in it. Believe me.

Author — sahil

Author

Meri Mausi jee ka ghar isi village me hai
🤔🤔🤔😥😥

Author — KUMAR RAJ

Author

Sorry to say that the govts. have miserably failed the people of Bihar.

Author — Sunita Dwivedi

Author

What is Nitish doing about Belchi’s development?? V sad

Author — Sunita Dwivedi

Author

इसी पर कवि नागार्जुन ने लंबी कविता 'हरिजन गाथा ' नामक रचना किया और ' महाभोज' नामक उपन्यास में इसका जिक्र है। इंदिरा गान्धी के साथ प्रतिभा पाटिल पुर्व राष्ट्रपति भी हाथी में साथ थी और तीसरा व्यक्ति महावत था

Author — Purvansh Soni

Author

क्यो हर बात में कहते हो कि कहा जाता है तो बोलो कि इस तरह की बात है

Author — Chandan yadav

Author

Ye Gao ka log jhuth bol raha, sahi bat Janne ke liye done paksh se bat kijye, ye log cherkhani karta tha or fasal churata tha, uska parinam tha.

Author — karm yogi

Author

Hum to rahte to pura belchhi ke kurmi ko jala dete

Author — Nitish Kumar

Author

usmai 11 ya 12 nahi 80 se 150 logo ko jla diya gaya tha samjhee fake newss mt de bhai

Author — sameer mafiya

Author

नरसंहार के दोषी को सजा मिली? क्यों नहीं मिली?

Author — Prashant Raj

Author

us jagh nhi voha par abb ghr bn chukaa hai

Author — sameer mafiya