'मैं एंटी- मोदी नहीं हूं, मैं बस उनसे सवाल पूछता हूं' #TheWireDialogues

  • 🎬 Видео
  • ℹ️ Описание
'मैं एंटी- मोदी नहीं हूं, मैं बस उनसे सवाल पूछता हूं' #TheWireDialogues 4.5
UChWtJey46brNr7qHQpN6KLQ


💬 Комментарии к видео
Автор

We have banned all news channels of TV @ our colony

Автор — Bikaner Raj

Автор

लिखें पढ़े ही सवाल कर सकते हें . रवीश जी तो सटीक बात करते हें जिसका कोई जवाब नहीं ...

Автор — Gedamtp Gedam

Автор

रविश जी आपकी सोच कितनी साफ है यह समझमे आता है जो एक साल पहले आपने कहा था कि खेल पूरा हो चुका है अब उसके परिणाम सामने आने है।आज जो देश के हालात है वह यही परिणाम है।

Автор — Meena Patil

Автор

हमें गर्व हैं की आप जैसे महान लोग हमारे बिहार से हैं।

Автор — Raman Kumar

Автор

धारा के विपरीत तैरने के लिए जिगर चाहिए। वरना धारा के साथ तो मुर्दे भी बहने लगते है ।

Автор — Abhijeet Singh Khartol

Автор

I have already stopped watching Media debates. I care for my India. Anyone following me ?

Автор — ak23291

Автор

Ravish ji, I wish you stay healthy and active in the media scene... We need you!

Автор — Pooja Verma

Автор

The best thing About Ravish is "He is taking the speaking Hindi and combination of urdu (common man language to a new height".

Автор — Nayak Sid

Автор

क्या बात कही।...झूठ बोलने वाले का मान ईतना महंगा क्यों? सबका मान एक जैसा हो।

Автор — Meena Patil

Автор

I was Bhakt..but After Following Ravish Kumar ji... Now I'm Citizens Thank You Ravish Sir 😍❤❤

Автор — Mukul Singh

Автор

I will quit watching Mainstream Media since today till June 2019....I request you too do so...

Автор — Ravi Shankar Patel

Автор

पूछते रहिये रवीश जी, जगाते रहिये हिंदुस्तान की सोयी आत्मा को
सलाम करते है आपके जज़्बे को

Автор — Vineeta Kumari

Автор

i have stopped seeing those channels and yes he is right- love to see him, he is what journalism is all about - ravish kumar hats off to you

Автор — Naresh Jain

Автор

What a speech..and truth about media....waah👏👏

Автор — shimon jha

Автор

Godi media kash inse kuch sikch le, taki unko gyaan ho, Aur desh ko sach dekhye, Sach batye.I salute you; Sir, Dil se.God bless you.

Автор — Imam Syed

Автор

रवीश जी आपकी बेबाक टिप्पणी व तर्कों का मैं कायल हूँ।

Автор — Susheel George

Автор

भ्रष्ट मिडिया ही नही संविधान के सभी पीलर की वही हालात जो जनतंत्र के नागरिक अधिकारों का खुल्लम खुल्ला हनन् किया जाता है तथा इसके आड़ में जनता का शोषणा किया जाता है ।

Автор — mahendra das

Автор

रविशजी आपकी वजह से मैने कई किताबे पढी है।

Автор — Meena Patil

Автор

पहले मैं भी इन न्यूज़ चैनलों को देख करता था मगर अब इनका सच जान चुका हूं।

Автор — Rahul Mehta

Автор

May you always be happy, healthy, safe, sound and active.

Автор — Zia Ullah Abdul Majeed